रतन टाटा की इन 5 बातों को नहीं जानते होंगे आप

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

तन टाटा (Ratan Tata) एक जानी-मानी हस्ती हैं जिन्हें किसी परिचय की आवश्यकता नहीं है. भारत में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति ऐसा हो, जिसने यह नाम न सुना हो. कई आंत्रप्रन्योर (उद्यमी) उन्हें एक उदाहरण के रूप में देखते हैं. भले ही वह रईस परिवार से आते हैं, लेकिन उन्होंने कभी भी पॉवर या पैसों को हल्के में नहीं लिया. टाटा संस के पूर्व चेयरमैन रतन टाटा एक सीईओ की सोच और पॉवर में बड़ा विश्वास रखते हैं, दोनों ही उन्हें बनाते या बिगाड़ते हैं. उनके गाइडेंस और सुपरविजन के तहत, टाटा मोटर्स फोर्ड मोटर्स के साथ ऐतिहासिक कॉन्ट्रैक्ट हासिल करने में सक्षम हुआ था. चलिए जानते हैं रतन टाटा से जुड़ी 5 खास बातें…

1937 में जन्मे रतन टाटा के पिता नवल टाटा जमशेदजी टाटा के दत्तक पोते थे. उनकी माता का नाम सूनी टाटा था. रतन टाटा जमशेदजी टाटा के परपोते हैं जिन्होंने टाटा समूह की स्थापना की थी. उनके माता-पिता 1948 में अलग हो गए जब वह सिर्फ 10 साल के थे. उनका पालन-पोषण उनकी दादी नवाजबाई टाटा ने किया था.

बिजनेसमैन रतन टाटा ने कभी शादी नहीं की. अपनी शादी को लेकर उन्होंने एक अहम जानकारी दी थी. उन्होंने बताया था कि उनके पास चार बार शादी का प्रस्ताव आया, लेकिन विभिन्न कारणों से शादी नहीं हो सकी.

रतन टाटा ने 8वीं कक्षा तक मुंबई के कैंपियन स्कूल से पढ़ाई की, उसके बाद मुंबई के कैथेड्रल एंड जॉन कॉनन स्कूल और शिमला के बिशप कॉटन स्कूल में शिक्षा ग्रहण की. इसके बाद, 1955 में न्यूयॉर्क शहर के रिवरडेल कंट्री स्कूल से ग्रेजुएशन किया. वह 1959 में आर्किटेक्चर एंड स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के लिए कॉर्नेल विश्वविद्यालय गए. बाद में 1975 में, उन्होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से एक मैनेजमेंट कोर्स किया.

रतन टाटा (Ratan Tata) की पहली नौकरी टाटा स्टील (Tata Steel) में थी. उन्होंने साल 1961 में अपने जॉब की शुरुआत की. उनकी पहली जिम्मेदारी ब्लास्ट फर्नेस और लाइमस्टोन की खुदाई के मैनेजमेंट का था.

रतन टाटा ने आईबीएम (IBM) से नौकरी के मौके को खारिज कर दिया था. इसके बजाय, वह टाटा स्टील के शॉप फ्लोर पर अपने फैमिली बिजनेस में शामिल हो गए.

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *