योगी सरकार ने बदला एक और नाम, वीरांगना लक्ष्मीबाई के नाम से जाना जाएगा झांसी रेलवे स्टेशन

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

झांसी. यूपी सरकार (UP government) ने एक और रेलवे स्टेशन (Railway Station) का नाम बदल दिया है। अब झांसी (Jhansi) रेलवे स्टेशन का नाम वीरांगना लक्ष्मीबाई रेलवे स्टेशन (Veerangana Laxmibai Railway Station) रख दिया गया है। उत्तर प्रदेश सरकार (Government of Uttar Pradesh) के नाम परिवर्तित करने के प्रस्ताव को केंद्र सरकार द्वारा मंजूरी मिलने के बाद शासनादेश जारी कर दिया गया है।

जानकारी के लिए बता दें कि तीन महीने पहले गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) को ये प्रस्ताव दिया गया था कि झांसी रेलवे स्टेशन का नाम बदला जाए। अब उसी प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए यूपी सरकार ने झांसी रेलवे स्टेशन का नाम बदल वीरांगना लक्ष्मीबाई रेलवे स्टेशन कर दिया है। रेलवे स्टेशन का कोड भी अब बदल दिया जाएगा। सरकार की तरफ ये तर्क दिया जा रहा है कि स्टेशन का नाम बदलने से भी क्षेत्र में पर्यटन की संभावनाएं बढ़ सकती हैं। बुंदेलखंड इलाके में भी इसका लाभ देखने को मिल सकता है।

भाजपा के राज्यसभा सांसद प्रभात झा सहित कई स्थानीय जन प्रतिनिधियों ने कुछ वर्ष पहले झांसी में आयोजित रेलवे की बैठक में झांसी का नाम रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर किये जाने की मांग की थी। इस पर रेलवे ने सहमति जताते हुये प्रक्रिया शुरू की थी और गृह मंत्रालय व अब यूपी सरकार की मंजूरी मिल गई है। झांसी के सांसद अनुराग शर्मा ने कहा कि यह बुन्देलखण्ड के लोगों के लिए गर्व की बात है।

ये सिक्का बदलदेगा आपकी किस्मत,इसकी कीमत है लाखों में

इस सब के अलावा अब यूपी में शिक्षा आयोग ने कई मशहूर शायरों के नामों को बदलकर प्रयागराज के नाम पर कर दिया है. उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी का नाम बदलकर ‘अकबर प्रयागराजी’ कर दिया. साथ ही, तेग इलाहाबादी का भी नया नामकरण करके तेग प्रयागराज और राशिद इलाहाबादी को राशिद प्रयागराज कर दिया गया. लेकिन बाद में जब इस फैसले पर विवाद बढ़ा तो आयोग ने आगे आकर सफाई दी कि उनकी साइट को हैक कर लिया गया था.

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *