जरूरत से ज्यादा सोने की आदत आपको कर सकती है बीमार

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

कहा जाता है कि स्वस्थ रहने के लिए सिर्फ पर्याप्त नींद ही नहीं, बल्कि समय पर नींद लेना और सही समय पर उठना भी बेहद जरूरी है. हालांकि बदलती लाइफस्टाइल के कारण बहुत कम लोग हैं जो इस नियम को आज भी फॉलो करते हैं. जबकि ऐसे लोगों की संख्या अधिक है जो छुट्टी के दिन देर तक सोते हैं. लेकिन समस्या तब हो जाती है जब ऐसा करना आपकी आदत में शामिल हो जाए और धीरे-धीरे आपको स्वास्थ्य समस्याएं परेशान करने लगे.

दरअसल, भरपूर नींद लेने से आपको अपने दिन के कामों को करने के लिए एनर्जी मिलती है. एक्सपर्ट्स भी रोजाना 8 से 9 घंटों की नींद लेने की सलाह देते हैं. लेकिन इसका यह बिल्कुल भी मतलब नहीं कि घंटों सोते रहें. ज्यादा नींद लेना आपके लिए हानिकारक हो सकता है और आपको मोटापे से लेकर शुगर जैसी बड़ी परेशानियां घेर सकती हैं. आइए जानते हैं ज्यादा देर सोने से होते हैं कौन से बड़े नुकसान हैं.

स्ट्रोक का बढ़ा जोखिम: हाल के अध्ययनों से पता चला है कि रोज रात को 9 घंटे से ज्यादा सोने से व्यक्ति को स्ट्रोक का खतरा हो सकता है या स्ट्रोक का खतरा 85 प्रतिशत तक बढ़ सकता है।

वजन बढ़ना: हर दिन बहुत अधिक सोने से आपका वजन बढ़ सकता है क्योंकि आप सोते समय अपने जागने के समय की तुलना में कम कैलोरी बर्न करते हैं जब आपके अधिक सक्रिय होने की संभावना होती है। अध्ययनों के अनुसार, जो लोग 9-10 घंटे सोते हैं उनका वजन औसत सोने वालों की तुलना में 5 किलो अधिक होता है।

Read Also….Bulli Bai App के पीछे महिला का हाथ,18 साल की लड़की, हो सकती है मुख्य आरोपी

हृदय रोग: अधिक सोने से आप आंत की चर्बी जमा कर सकते हैं जो लीवर और आंतों जैसे आंतरिक अंगों में जमा हो जाती है। ओबेसिटी नामक पत्रिका के एक अध्ययन के अनुसार, इस प्रकार की वसा हाई कॉलेस्ट्रॉल, डायबिटीज़ और हृदय रोगों जैसे विकारों को जन्म दे सकती है।

डायबिटीज़: हर रात 8 घंटे से अधिक सोने से डायबिटीज़ का खतरा बढ़ सकता है।

दिमागी तौर पर कमजोरी: 7-8 घंटे की नींद आपके मस्तिष्क को तेज रख सकती है, लेकिन अमेरिकन जेरियाट्रिक्स सोसाइटी के जर्नल में हार्वर्ड के शोधकर्ताओं के अनुसार, इसकी अवधि को 9 घंटे या उससे अधिक तक बढ़ाने से मस्तिष्क की कार्यक्षमता कम हो सकती है।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *