इत्र के अचूक टोटके बना देगा आपको अरबपति और खरबपति, पढ़िए कैसे

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

इत्र का उपयोग ज्यादातर लोग घर में सुगंध और कपड़ो के लिए करते है. आज से नहीं बल्कि प्राचीन काल से ही इत्र का व्यापार किया जा रहा है. मान्यताओं के आधार पर इत्र का महत्वा कई जातियों में माना जाता है. इत्र शरीर को सुगन्धित करता है.

बता दे की इत्र के टोटके से आप रातोंरात मालामाल भी बन सकते है. चलिए आज हम आपको बताते है की कैसे?

ऐसे करे उपयोग

1- यदि कोई स्त्री लाल सिंदूर, इत्र की शीशी, चने की दाल और केसर का दान करें तो इस उपाय से उस स्त्री के पति की आयु में वृद्धि होती है।

2- सफेद कपड़े पहनकर किसी भी देव स्थल पर लाल गुलाबी या चमेली का इत्र अर्पित करें। प्रेम विवाह में आ रही बाधाएं दूर होंगी।

3- यदि आपको अचानक धन से जुड़ा नुकसान हो रहा हो, तो सात शुक्रवार को सात सुहागिनों को अपनी पत्नी के माध्यम से लाल वस्तु उपहार में दें और इस उपहार में इत्र जरूर रखें, तुरंत लाभ होगा।

4- यदि आप अपने ऑफिस के लोगों पर प्रभाव डालना चाहते है तो मोगरा, रातरानी या चंदन इत्र का इस्तेमाल करें। सभी आपसे खुश रहेंगे।

5- अपने साथ भूरे रंग के पर्स में किन्ही भी चार नोटों पर चंदन का इत्र लगाकर रखें। इन्हें खर्च न करें और बरकत के रूप में संभाल कर रखें। पर्स हमेशा पैसों से भरा रहेगा।

6- शुक्ल पक्ष के किसी शुक्रवार को माता लक्ष्मी को इत्र व श्रृंगार की वस्तुएं भेंट करें। इस उपाय से पति और पत्नी के बीच प्रेम बढ़ेगा और घर में धन व समृद्धि भी बरकरार रहेगी।

7- मंदिर में चंदन, कपूर, चंपा, गुलाब, केवड़ा, केसर और चमेली के इत्र अर्पित करने व उसे लगाने से देवी और देवता प्रसन्न होते हैं।

8- यदि आपका जन्म बुधवार या बुध नक्षत्र को हुआ है तो बुधवार को चमेली का तेल या चमेली के इत्र को पीपल के पेड़ पर छिड़के। इससे इस नक्षत्र के लोगों को निश्चत रूप से लाभ मिलेगा।

9- पूजन के समय तेज सुगंध और इत्र का प्रयोग करें। तेज इत्र का प्रयोग करने से लक्ष्मी की कृपा तुरंत प्राप्त होती है और घर में धन संबंधी कभी समस्याएं उत्पन्न नहीं होती।

10- शुक्र को जगाने के लिए आचरण की शुद्धि अत्यंत आवश्यक है। शुक्ल पक्ष के शुक्रवार को माता लक्ष्मी को इत्र एवं श्रृंगार की वस्तुएं भेट करें। इस उपाय से पति पत्नीं के बीच जहां प्रेम बढ़ेगा वहीं घर में धन एवं समृद्धि भी बरकरार रहेगी।

नोट- यह सामान्य जानकारी है और मान्यताओं पर आधारित है। अनोखी आवाज़ न्यूज इसकी पुष्टि नहीं करता है। विशेषज्ञ से सलाह भी लें।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *