अजीब परंपरा,मरने के बाद अपनों के लाश खाते हैं यहां के लोग जान के हैरान हो जाएंगे

परंपरा,

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

जानिए वे कहा के लोग हैं जो लाश को खा जाते हे

Marne ke bad apno ke sav khate hai yaha ke log:दुनिया में इंसानों की कई ऐसी जनजातियां रहती हैं, जिनके बारे में आम दुनिया के लोग अनजान हैं। जब हमें इनमें से कुछ जनजातियों के रीति-रिवाजों, परंपराओं और संस्कृति के बारे में पता चलता है, तो हम चकित रह जाते हैं। उनके विश्वासों के बारे में जानना अक्सर आश्वस्त करने वाला नहीं होता है। ऐसी ही एक जनजाति है यानोमामी।

यानोमामी जनजाति अपने लोगों की लाश खाती है
आपको जानकर हैरानी होगी कि इस जनजाति के लोग अपने ही लोगों का मांस खाते हैं। ब्राजील, दक्षिण अमेरिका में रहने वाली यह जनजाति एक अजीबोगरीब परंपरा का पालन करती है। इस परंपरा को एंडो-नरभक्षण कहा जाता है। ‘द गार्जियन’ की खबर के मुताबिक ब्राजील और वेनेजुएला में पाई जाने वाली इस जनजाति को यनम और सिनेमा के नाम से भी जाना जाता है।

आधुनिकीकरण और पश्चिमीकरण इस जनजाति को प्रभावित नहीं करता है। उन्हें बस अपनी संस्कृति और परंपराओं का पालन करना है। अपनी परंपरा में इस जनजाति को बाहरी लोगों का दखल पसंद नहीं है। आपको जानकर हैरानी होगी कि यहां जब किसी की मौत होती है तो बहुत ही वीभत्स तरीके से उसका अंतिम संस्कार कर देते हैं।

electric scooter: कम कीमत में घर लाये 75 Km की रेंज वाली ये electric scooter,जानिए क्या है नये फीच

घर के सभी लोग इकट्ठा होकर शव को खाते हैं
किसी के मरने के बाद घर के सभी लोग इकट्ठा होते हैं और शव को पूरी तरह जलाकर खाते हैं। शव को जलाने के बाद सबसे पहले ये लोग उसके चेहरे को रंगते हैं। इसके बाद सभी लोग मिलकर लाश को खाते हैं. ये लोग अपने किसी रिश्तेदार की मृत्यु के बाद गीत गाते हैं और रो-रोकर अपना दुख व्यक्त करते हैं।

Bhojpuri Hindi News: सबा खान और अंकिता सिंह की जोड़ी साथ लेकर आई ‘स्मार्ट पिया’, मचा रहा धूम

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.