कई वर्षो पुराना मिला कंकाल,दुनि‍या में पहले हाइब्र‍िड जानवर की जताई जा रही,साइंटिस्‍ट भी हैरान

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

नई दिल्‍ली: दुनिया में एक से एक हैरान करने वाली बातें सामने आती रहती हैं. ऐसी ही रिसर्च अभी हाल ही में सामने आई जिसमें ऐसे जानवर के कंकाल मिले जो हाइब्र‍िड जानवर थे. ये न घोड़ा थे और न गधे. आश्‍चर्य की बात ये है कि 5500 साल पहले संकर जानवरों के निर्माण की तकनीक भी मौजूद थी, इस बात से साइंट‍िस्‍ट हैरान हैं.  

हमारी सहयोगी वेबसाइट WION की रिपोर्ट के अनुसार, ये रिसर्च साइंस एडवांसेस में पब्‍ल‍िश्‍ड हुई है. इसमें एक घोड़े जैसे दिखने वाले जानवर का कंकाल दक्षिण कॉकेशस और अनातोलिया में मिला है जो कांस्‍य युग का है. 

इस बारे में पेरिस के the Institut Jacques Monod में जीनोमिसिस्‍ट इवा मारिया गीगल ने बताया कि रिसर्च में जिस जानवर का कंकाल मिला है वह न तो गधा है और सीरियन जंगली गधा है. ये पूरी तरह घोड़े का कंकाल भी नहीं है बल्‍कि घोड़े की तरह है. इस बात से वह हैरान थी कि इसमें कुछ तो अलग है, पर क्‍या अलग है, इसका पता नहीं चल पा रहा था.  

रिसर्च में आई ये बात सामने 

टेक्स्टुअल, आइकोनोग्राफिक और आर्कियोजूलॉजिकल डेटा के कॉम्‍ब‍िनेशन से पता चलता है कि मध्य से तीसरी सहस्राब्दी ईसा पूर्व तक घरेलू घोड़ों को पड़ोसी पर्वतीय क्षेत्रों से मेसोपोटामिया (आधुनिक इराक और पूर्वोत्तर सीरिया) में लाया गया था जहां उन्हें अक्सर ” पर्वतों का गधा” कहा जाता था. 

5500 साल पहले जैव इंजीनियरों ने बनाया था ये जानवर 

इस मामले में खास बात ये है कि इस 5500 साल पहले का बताया जा रहा है. प्राचीन समय के लोग हाइब्र‍िड टेक्नोलॉजी का उपयोग करते थे, ये एक आश्‍चर्य की बात है. 

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *