singrauli samachar : रेप का आरोपी घर बैठकर बना रहा वीडियो, पुलिस बनी मूकदर्शक

komal gupta singrauli

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

पार्टी ने किया निष्काषित,विपक्षी पार्टियों ने कसा तंज

देवसर विधायक की सहमति से हुई थी नियुक्ति,अध्यक्ष भी जान बूझकर मौन

अनोखी आवाज़ singrauli samachar। भारतीय जनता पार्टी ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा दिया था। लेकिन यहाँ बेटियां असामाजिक तत्वों से जितनी असुरक्षित नही है उतनी असुरक्षित कही भाजपा नेताओं से है। ऐसा हम नही कह रहे बल्कि आये दिनों शिवराज मामा के राज में हो रही ऐसी घटनाओं से विपक्षी पार्टियों का आरोप है।
बीते दिनों सिंगरौली जिले के सरई में हुई घटना ने न केवल मानवता को शर्मशार किया बल्कि भाजपा को भी शर्मसार कर दिया। मामला जैसे ही थाने की चारदीवारी से बाहर आया हर कोई हतप्रभ रह गया। लेकिन कितने आश्चर्य की बात है कि अभी तक आरोपी भाजपा नेता पुलिस की गिरफ्त से कोसों दूर है। हालांकि पार्टी ने अपनी नाक बचाने के लिए आनन-फानन में कोमल गुप्ता को मंडल अध्यक्ष से हटाते हुए पार्टी के प्राथमिक सदस्यता से भी निष्कासित कर दिया लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी।singrauli samachar

गिरफ्तारी को लेकर सरई पुलिस नही दिखा रही रुचि

singrauli samachar सरई पुलिस ने आनन-फानन में दो लोगो को आरोपी तो बना दिया लेकिन अब गिरफ्तार करने में पसीने छूट रहे है। धर्मेंद्र गुप्ता आसानी से पुलिस की पकड़ में आ गया लेकिन कोमल गुप्ता घर बैठकर वीडियो बनाकर सफाई पर सफाई दे रहा है और पुलिस मूकदर्शक बनकर न जाने क्या सोंच रही है। यदि यही कही मामला किसी सामान्य व्यक्ति का होता तो अब तक वह सलाखों के पीछे होता लेकिन मामला हाईप्रोफाइल भाजपा नेता से जुड़ा हुआ है, जिस कारण ऐसा लग रहा है जैसे पुलिस भी अब गिरफ्तार करने से कतरा रही है। सरई थाना प्रभारी संतोष तिवारी के लिए गले की फांस बनकर रह गया है।singrauli samachar

विधायक का करीबी…? अध्यक्ष भी मौन..?

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे फोटो में देवसर विधायक सुभाष चंद्र वर्मा, कोमल गुप्ता के काफी करीब नज़र आ रहे हैं। SINGRAULI जिससे आम जनमानस में चर्चा है कि विधायक का काफी करीबी था इतना ही नहीं सूत्र तो यहां तक बताते हैं कि देवसर विधायक के सिफारिश पर ही कोमल गुप्ता को मंडल अध्यक्ष की जिम्मेदारी मिली थी..? हालांकि आम जनमानस में हो रही चर्चा कितनी सत्य है यह तो जांच का विषय है।लेकिन फिलहाल इस मामले से देवसर विधायक की भी किरकिरी हो रही है singrauli samachar

वही अपनी नाक बचाने के लिए जिलाध्यक्ष ने भी आनन-फानन में निष्कासन कर दिया है। SINGRAULI लेकिन मीडिया से बात करने में अभी भी कतरा रहे हैं। अब बड़ा सवाल यह है कि कोमल गुप्ता को सरई पुलिस कब तक गिरफ्तार करती है। singrauli samachar

ये भी पढ़े…

SINGRAULI BJP नेता कोमल गुप्ता का वायरल हुआ वीडियो,देखिये LIVE

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.