दुनिया के लिए सामने आई राहत भरी खबर, वैज्ञानिकों ने ढूंढ निकाला ओमिक्रॉन वेरिएंट का तोड़

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

पूरी दुनिया में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के ओमिक्रॉन वेरिएंट से लोगों में घबराहट बढ़ती जा रही है. हालात से निपटने के लिए जगह-जगह फिर से पाबंदियों का दौर शुरू हो गया है. इसी बीच ओमिक्रॉन के खिलाफ ऐसी बड़ी खबर सामने आई है, जिससे आप राहत महसूस कर सकते हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों की एक टीम ने उन एंटीबॉडीज की पहचान की है, जो ओमिक्रॉन समेत कोरोना के सभी वेरिएंट ) को बेअसर कर सकते हैं. ये एंटीबॉडीज कोरोना वायरस के उन हिस्सों को निशाना बनाती हैं, जिनमें म्यूटेशन (जीन में बदलाव) के दौरान भी कोई बदलाव नहीं होता है.

यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन के एसोसिएट प्रोफेसर डेविड वीसलर ने इस बारे में बड़ी जानकारी दी. प्रोफेसर डेविड वीसलर ने कहा कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के नुकीले हिस्से को स्पाइक प्रोटीन कहा जाता है. इसके जरिए वह मानव कोशिकाओं में प्रवेश कर संक्रमण फैलाता है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के स्पाइक प्रोटीन के खास हिस्से को टारगेट करने वाली एंटीबॉडी के विकास पर ध्यान देकर इस महामारी को कंट्रोल किया जा सकता है. 

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *