Tuesday, February 7, 2023
Homeराष्‍ट्रीयPresident Draupadi Murmu: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 1 kmपैदल चलकर भगवान जगन्नाथ मंदिर...

President Draupadi Murmu: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 1 kmपैदल चलकर भगवान जगन्नाथ मंदिर पहुंची

President Draupadi Murmu: 1 किमी पैदल चलकर भगवान जगन्नाथ मंदिर पहुंची राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और की यह बड़ी घोषणा, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू यहां ग्रांड रोड पर करीब एक किलोमीटर पैदल चलकर 12वीं सदी के भगवान जगन्नाथ मंदिर तक पहुंचीं और उन्होंने देश के कल्याण के लिए प्रार्थना की मुर्मू के दौरे के कारण आम लोगों के लिए मंदिर को सुबह 10:30 बजे से दोपहर एक बजे तक बंद रखा गया। हालांकि सैकड़ों श्रद्धालुओं ने मंदिर जाने वाली सड़क के दोनों ओर कतारबद्ध खड़े होकर राष्ट्रपति का अभिवादन किया।

President Draupadi Murmu: ओडिशा के मयूरंभज जिले से ताल्लुक रखने वाली और आदिवासी समुदाय से आने वाली मुर्मू ने मंदिर के सिंहद्वार के सामने 34 फुट ऊंचे अरुण स्तंभ को छुआ। उन्होंने भगवान जगन्नाथ देवी सुभद्रा और भगवान बलभद्र की प्रतिमाओं के समक्ष घुटने के बल बैठकर (धोक लगाकर) प्रार्थना की।

काफिले को रोककर गाड़ी से उतरीं

President Draupadi Murmu: आज दिन में भुवनेश्वर पहुंचीं राष्ट्रपति ने उस समय अपने सुरक्षाकर्मियों को चौंका दिया जब वह बीच में अपने काफिले को रोककर गाड़ी से उतरीं और आम श्रद्धालु की तरह पैदल मंदिर की ओर चलने लगीं। वह भगवान जगन्नाथ के जयकारे लगाते हुए हाथ ऊपर करके चल रही थीं। उन्होंने रास्तों में खड़े लोगों का अभिवादन भी स्वीकार किया।


photo by google

President Draupadi Murmu: मंदिर के रास्ते में मुर्मू ने ग्रांड रोड के किनारे इंतजार कर रहे उत्कल हिंदी विद्यालय के छात्रों के पास पहुंचकर उनसे और उनके शिक्षकों से बातचीत की। उन्होंने बच्चों के साथ फोटो भी खिंचवाई। मुर्मू स्वयं 1990 के दशक में शिक्षक के रूप में काम कर चुकी हैं।

महाराजा ने किया स्वागत

President Draupadi Murmu: महाराजा ने किया स्वागत सिंहद्वार पर पहुंचने पर पुरी के गजपति महाराजा दिव्य सिंह देव मंदिर के पुजारियों और सरकारी अधिकारियों ने राष्ट्रपति का स्वागत किया। देव ने उन्हें मंदिर की ओर से एक पेंटिंग भेंट की। जब राष्ट्रपति के नमस्ते कहने पर गजपति महाराजा ने असहजता प्रकट की तो मुर्मू ने कहा कि आप भगवान जगन्नाथ के पहले सेवक हैं और साक्षात ईश्वर स्वरूप हैं।

President Draupadi Murmu: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 1 kmपैदल चलकर भगवान जगन्नाथ मंदिर पहुंची


photo by google

President Draupadi Murmu: मुर्मू ने भगवान के प्रति अपनी श्रद्धा प्रकट करते हुए सिंहद्वार पर धोक दिया और आम श्रद्धालुओं की तरह अपने पैर धोकर मंदिर में प्रवेश किया। उन्होंने मंदिर जाते समय सभी 22 सीढ़ियों को हाथ से छूआ यह जानकारी राष्ट्रपति के पारिवारिक पुजारी राजरतन महापात्र ने दी।

कहा- मैं सौभाग्यशाली हूं मुर्मू ने अपने परिवार के पुजारी के पास रखी पुस्तिका में ओडिया में लिखा, ‘मैं मंदिर परिसर में देवी-देवताओं के दर्शन करके सौभाग्यशाली महसूस कर रही हूं। मुझे भगवान जगन्नाथ की प्रार्थना करके अद्भुत आनंद की अनुभूति हुई जो सभी ओडिशावासियों के देवता है।

महाप्रभु आदिवासियों के ‘दारु देवता’ (पेड़ की लकड़ी में बसे देवता) और पूरी दुनिया के देवता है में उनसे पूरी मानव जाति के कल्याण की प्रार्थना करती हूं। हमारा देश भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद से समृद्धि और विकास के शीर्ष पर पहुंची |

आध्यात्मिकता डूबी हुई और अत्यंत भावुक नजर आई

President Draupadi Murmu: मंदिर से निकलते समय राष्ट्रपति ने सिंहद्वार के पास उत्कलमणि गोप बंधु दास की प्रतिमा पर मार्ल्यापण किया जिसकी स्थापना 1934 में महात्मा गांधी ने की थी महापात्र ने कहा कि मुर्मू कई बार मंदिर आ चुकी हैं। वह विधायक के रूप में मंत्री के रूप में और झारखंड की राज्यपाल के रूप में मंदिर में दर्शन करने आ चुकी हैं। उन्होंने कहा कि में सभी मौकों पर उनके साथ रहा हूं। लेकिन इस बार वह आध्यात्मिकता में डूबी हुई और अत्यंत भावुक नजर आ रही थीं।

President Draupadi Murmu
photo by google

President Draupadi Murmu: राष्ट्रपति की पुरी यात्रा के लिए पुलिस की 25 से अधिक टुकड़ियां तैनात की गई हैं। पुरी से भुवनेश्वर रवाना होने से पहले राष्ट्रपति यहां राजभवन गईं, जहां उन्होंने ‘महाप्रसाद’ ग्रहण किया। राष्ट्रपति के भुवनेश्वर हवाई अड्डे पहुंचने पर उनका स्वागत ओडिशा के राज्यपाल गणेशी लाल और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने किया।

निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments