MP में कुत्तों पर राजनीति: कमलनाथ बोले- CM के अधिकारी गंभीर नहीं

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

भोपाल: एक दिन पहले धार से एक दिल को झंकझोर कर रख देने वाली घटना आई. यहां 3 साल की मासूम बच्ची पर कुत्तों के झुंड ने हमला कर दिया. बच्ची को कुत्ते काफी देर तक नोंचते रहे, जिसके बाद उसकी मौत हो गई. कुछ दिन पहले राजधानी में ऐसी ही घटना हुई थी, जिसके बाद सीएम शिवराज सिंह (Shivraj Singh) ने कड़े आदेश दिए थे. अब मामले पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने भी कड़े निर्देश दिए हैं. लेकिन अब इस पर राजनीति थमने का नाम नहीं ले रही है. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सीएम शिवराज पर निशाना साधा हैं.

कमलनाथ ने सीएम शिवराज पर साधा निशाना
धार में हुई दर्दनाक घटना पर पूर्व मुख्यमंत्री औऱ कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ ने शिवराज सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि ”शिवराज जी , विगत 1 जनवरी को भोपाल के बागसेवनिया क्षेत्र में एक 4 साल की मासूम बच्ची पर श्वानो के हमला करने की दर्दनाक घटना हुई थी. इसको लेकर आपने 3 जनवरी को अधिकारियों को नाराज़गी जताते हुए निर्देश दिये थे कि प्रदेश में ऐसी घटना दोबारा ना हो ,इसके पुख्ता इंतजाम किये जाएं और ऐसी घटनाओं को मैं अब बर्दाश्त नहीं करूंगा. अब प्रदेश के धार के ग्राम पाडलिया में 3 साल की मासूम बच्ची नंदनी को इसी प्रकार श्वानों ने नोच डाला और बच्ची की दुखद मौत हो गई. आखिर ऐसी घटनाओं पर कब रोक लगेगी और कब किसी हंसते- खेलते परिवार को उजड़ने से रोका जा सकेगा ? क्या आप के निर्देश प्रदेश के अधिकारी गंभीरता से नहीं लेते ?  ऐसे अधिकारियों की जवाबदेही आख़िर कब तय होगी ?

वहीं बीजेपी विधायक यशपाल सिसोदिया ने माना कि आवारा कुत्ते ,जंगली कुत्तों की प्रवित्ति लगातार बढ़ रही है. यशपाल सिसोदिया ने कहा विधानसभा में प्रश्न के माध्यम से पांच बड़े शहरों में NGO ने कितने कुत्तों की नसबंदी की है. इसकी जानकारी मांगी थी. जिसमें सामने आया कि 5 साल में 19 लाख रुपये खर्च कर 5 बड़े शहरों  भोपाल, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर, जबलपुर में 2.5 लाख कुत्तों की नसबंदी की गई थी. ये आंकड़े साल 2015 से 2020 तक के हैं, लेकिन कुत्तों की संख्या में कमी नहीं आई है. बीजेपी विधायक ने कहा सरकार इतने पैसे खर्च कर रही तो उसके नतीजे भी सामने आने चाहिए. NGO ठीक तरह से काम करें. बीजेपी विधायक ने कहा कि कभी कभी पशु प्रेमी कुत्तों को पड़कने जैसे कामों का विरोध करते हैं. उनको भी ऐसा नहीं करना चाहिए.

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *