पाकिस्तान ने किया अपनी नई राष्ट्रीय सुरक्षा नीति में बड़ा बदलाव क्या सच में होगा बदलाव देखिए आगे ।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

अनोखी आवाज : पाकिस्तान ने कहा है कि वह अगले 100 सालों तक भारत से बाहर नहीं करेगा क्या पाकिस्तान को उसकी औकात पता चल गई या खाने को कुछ नहीं है पाकिस्तान के पास पाकिस्तान ने कहा कि अब कश्मीर का राह नहीं ला पाऊंगा व्यापार और सुरक्षा नीति और पाकिस्तान को आगे ले जाने का करेगा उपाय क्या यह संभव है क्योंकि पाकिस्तान पर विश्वास करना उस सर्प की तरह है जो पीछे से वार करता है इस वक्त सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है दूसरी बात यह है कि भारत के साथ रिश्तो को लेकर वह काफी परेशान है क्योंकि भारत के खिलाफ बोलने पर वह दुनिया में अलग-थलग हो चुका है अब उसके पास कोई रास्ता नहीं बचा है पाकिस्तान ने कहा कि अगले 100 वर्षों तक भारत के साथ बैर नहीं करेंगे क्योंकि पाकिस्तान आप करोड़ों के नुकसान के बाद भारत से कश्मीर मुद्दे पर भी बात नहीं करेगा अब सिर्फ और सिर्फ व्यापार की बात करेगा।

पाकिस्तान में विदेश नीति में बड़ा बदलाव अब वह भारत के साथ अच्छा व्यापार करना चाह रहा है और कश्मीर का मुद्दा उसके लिए बहुत घातक होता जा रहा है वह पड़ोसियों के साथ अच्छे व्यापार के बारे में सोच रहा है लेकिन क्या भारत पाकिस्तान के साथ व्यापार करेगा क्योंकि आतंकवाद की नीति पाकिस्तान कभी छोड़ नहीं सकता चाहे वह कितना व्यापार कर ले अगर वह आतंकवाद नहीं छोड़ेगा तो भारत भी उसके साथ व्यापार नहीं करेगा व्यापार तो दूर की बात भारत बात तक नहीं करेगा।

विशेषज्ञों का कहना है कि पाकिस्तान के लिए कहना तो आसान है लेकिन उसे कर दिखाना बहुत ही मुश्किल की बात है क्योंकि पिछले साल भी भारत और पाकिस्तान के बीच लग रहा था कि स्थितियां सामान्य हो जाएंगे लेकिन उसके आतंकवादियों की नीति उसे हमेशा पीछे धकेल देती है पाकिस्तान कभी भी सही रास्ते पर ज्यादा देर तक नहीं चल पाता है क्योंकि पाकिस्तान में आर्मी और नेता अलग-अलग बातें करते हैं ऐसा लगता है कि कभी मौलाना भी और तरीके लब्बैक जैसे संगठन पाकिस्तान को क्या विदेश नीति में सुधार करने का अवसर देंगे क्या हुआ फिर किसी विदेशी का सर कलम करते हुए पाकिस्तान की धज्जियां उड़ेल देंगे।

आपको हम बता दें कि पाकिस्तान भारत को खुश करने में लगा है क्योंकि कई बार उसने मंच पर भारत के साथ नए रिश्ते जुड़ने के लिए बयान दे चुका है लेकिन इससे पाकिस्तान को अभी तक कोई कामयाबी नहीं मिली आपको बता दें कि इसी वर्ष भारत को काउंटर टेररिज्म कमेटी का अध्यक्षता करने का अवसर मिला है इस वजह से भी पाकिस्तान घुटनों पर आ रहा है।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.