बजट 2022 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बजट को नए भारत के निर्माण का बजट बताया और कमलनाथ बोले- बजट झूठे सपने दिखाने वाला साबित हुआ

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

बजट 2022 को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बजट को नए भारत के निर्माण का बजट बताया और कमलनाथ बोले- बजट झूठे सपने दिखाने वाला साबित हुआ

M.K.S. की खास रिपोर्ट📰🖋️

अनोखी आवाज :- भोपाल। केन्द्र सरकार ने मंगलवार को संसद में आम बजट पेश कर दिया। इसको लेकर सत्तापक्ष और विपक्ष के नेताओं ने प्रतिक्रिया दी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बजट को नए भारत के निर्माण का बजट बताया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यह नए भारत के निर्माण का बजट

है। अधोसंचरना विकास के लिए 35 प्रतिशत से ज्यादा राशि बजट में बढ़ाई गई है। इससे अधोसंचरना के विकास के साथ-साथ रोजगार के अवसर सृजित होंगे। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश को बढ़ी सौगात मिली है। नदी जोड़ो परियोजना के अंतर्गत कैन और बेतवा को जोड़ने पर 44 हजार करोड़ से ज्यादा की धनराशि खर्च की जाएगी। सीएम ने बजट को किसानों की आय दोगुना करने वाला बताया है। उन्होंने कहा कि कोविड काल के बाद देश में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर बनाने के लिए

पर्याप्त प्रावधान किया गया है। यह महिला सशक्तिकरण, युवाओं को रोजगार देने, गरीब और किसान के कल्याण का और एक शक्तिशाली भारत के निर्माण का बजट है।

कमलनाथ बोले- बजट में किसी वर्ग के लिए कुछ नहीं : पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि केन्द्र का बजट पूरी तरह से निराशाजनक साबित हुआ है। यह महज आंकड़ों की बाजीगरी से भरा व फिर झूठे सपने दिखाने वाला साबित हुआ है। इस बजट में किसी भी वर्ग के लिए कुछ नहीं

है। आमजन इनकम टैक्स स्लैब में छूट बढ़ाने की मांग बड़े लंबे समय से कर रहे थे, लेकिन कोई राहत प्रदान नहीं की गई। एमएसपी की गारंटी पर इस बजट में कोई बात नहीं है। किसानों की आय दोगुनी करने के झूठे सपने दिखाए गए हैं। कमलनाथ ने कहा कि 7 साल पहले 2 करोड़ रोजगार हर साल देने का सपना दिखाने वाले अभी तक 60 लाख नौकरियां सृजित करने के झूठे सपने दिखा रहे हैं। महंगाई से राहत के लिए बजट में

कुछ नहीं है। स्कूलों में शिक्षक नहीं हैं अब स्कूलों में हर क्लास में टीवी लगाने के झूठे सपने दिखाए जा रहे हैं। बजट में किसानों, युवाओं, महिलाओं, नौकरीपेशा वर्ग, मध्यम वर्ग किसी के लिए इस बजट में कुछ नहीं है।

यह बजट आमजन विरोधी है। थोड़ी बहुत घोषणाएं बजट में की गई हैं, वह भी पांच राज्यों में चुनावों को देखते हुए ही की गई हैं।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.