जरूर आजमाए- बृहस्पतिवार को करें ये उपाय, हर परेशानी होगी दूर

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

ज्योतिषियों के अनुसार बृहस्पतिवार को बृहस्पति ग्रह का दिन माना गया है। वही दूसरी ओर इस दिन को भगवान विष्णु को समर्पित किया गया है। सनातन धर्म के अनुसार भगवान विष्णु परब्रह्मा कहलाते हैं। साथ ही साथ यह भी माना जाता है कि वह आदिगुरु है।

इसी कारण से हर गुरु का स्थान ब्रह्म से ऊपर बताया जाता है। इसीलिए यह कहा जाता है कि गुरूर्ब्रह्मा गुरूर्विष्णुः गुरूर्देवो महेश्वरः । अर्थात गुरु ही ब्रह्मा, विष्णु और महेश होते हैं। इसी कारण से वैदिक ज्योतिषियों के अनुसार बृहस्पति को गुरु का दर्जा मिला हुआ है।

बृहस्पतिवार मुख्य रूप से ज्ञान, दर्शन, धर्म, विवाह, सुल्तान और भाग्य के कारक माने जाते हैं। अगर आप गुरु ग्रह की कृपा पाना चाहते हैं तो आप गुरुवार को भगवान विष्णु का पूजन विधान पूर्वक करें। इसके चलते गुरु को प्रसन्न रख कर भगवान और ग्रह दोनों को प्रसन्न कर सकते हैं।

व्यक्ति की कुंडली में बृहस्पति की स्थिति कमजोर होती है तो उस व्यक्ति के विवाह में देरी, या फिर संतान प्राप्ति में कठिनाई आती है। यहां तक कि जीवन के अन्य क्षेत्रों में भी उसे परेशानियां झेलनी पड़ती है।बृहस्पति देव के हानिकारक प्रभाव से बचना चाहते हैं तो आप गुरुवार को कुछ उपायों को अपना सकते हैं जिससे आपको लाभ पहुंचेगा। तो चलिए जानते हैं क्या है उपाय

नहाते वक्त पानी में मिला लें हल्दी

अगर आप गुरु दोष दूर करना चाहते हैं तो गुरुवार के दिन नहाते समय पानी में चुटकी भर हल्दी मिलाकर स्नान करना चाहिए। इसके साथ साथ नहाते समय ॐ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप करना चाहिए। इसके बाद नहाने के बाद मस्तक पर केसर का तिलक जरूर लगाएं।

इससे अगर आपकी कुंडली में गुरु ग्रह के दोष है तो वह दूर हो सकते हैं। अगर आप गुणी व्यक्तियों की ज्ञानवर्धक पुस्तकें दान करते हैं तो गुरु के हानिकारक प्रभाव से बच सकते हैं।

सत्यनारायण व्रत कथा सुनें

गुरुवार का व्रत रखना चाहिए इसी के साथ साथ अगर संभव हो तो आपको केले के पौधे का पूजन कर उसने जल अर्पित करना चाहिए। अगर आप ऐसा करते हैं तो आपके विवाह में जो भी रुकावट आ रही है उसका समाधान हो सकता है। बृहस्पतिवार को विशेष रूप से सूर्योदय से पहले उठकर स्नान करना है उसके बाद भगवान विष्णु की पूजा अर्चना करके विष्णु भगवान का नाम का पाठ करना है।

गुरुवार को उधार ना दें

अगर आप अपनी कुंडली में गुरु की स्थिति को मजबूत करना चाहते हैं तो गुरुवार के दिन किसी को भी उधार देने से पहले सावधानियां बरतनी चाहिए। अगर आप धन का लेनदेन करते हैं तो इससे आपकी कुंडली में गुरु कमजोर होने लगता है और इससे आपको आर्थिक तंगी झेलनी पड़ती है।

अगर आप बृहस्पति देव का आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं तो भगवान विष्णु की प्रतिमा को विधि विधान के साथ किसी पीले वस्त्र पर स्थापित करके, चंदन और पीले फूल से उनकी पूजा अर्चना करके, उनकी विधिवत पूजा करें। इसी के साथ साथ उसके प्रसाद के लिए चने की दाल और गुड़ चढ़ाने चाहिए।

पहने पीले वस्त्र

अगर आप गुरुवार के दिन पीले वस्त्र धारण करते हैं तो यह आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इससे आपका भाग्य चमक सकता है। अगर इस दिन आप खास तौर पर ब्राह्मणों को भोजन करवाते हैं और दान दक्षिणा देते हैं तो आपको विशेष लाभ मिलता है।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *