Multiple Credit Cards Benefits:एक से अधिक क्रेडिट कार्ड रखने से फायदे या नुकसान..?

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Multiple Credit Cards Benefits: क्रेडिट कार्ड के फायदे गिनाने वाले तो आपको बहुत से लोग मिल जाएंगे, लेकिन नुकसान के बारे में बहुत ही कम लोग बताते हैं। अक्सर कुछ एजेंट भी आपको फोन करते हैं और कहते हैं एक और कार्ड ले लीजिए इसके बहुत फायदे हैं। ऐसे में बहुत से लोग तो एक ऑनलाइन शॉपिंग वाउचर या फिर एक मूवी टिकट के लालच में ही कई क्रेडिट कार्ड ले लेते हैं। ऐसे में सवाल ये उठता है कि एक से अधिक क्रेडिट कार्ड रखना फायदे का सौदा (Advantage of Multiple credit cards) है या फिर घाटे (Disadvantage of Multiple credit cards) का। साथ ही ये भी जानना जरूरी है कि एक साथ कई क्रेडिट कार्ड सही तरीके से कैसे इस्तेमाल करें

Maruti की Ertiga MPV हो गई मँहगी,पढ़िए वर्तमान कीमत

  • बैलेंस ट्रांसफर की सुविधा: एक से ज्यादा क्रेडिट कार्ड रखने का एक यह फायदा भी है कि जब आप पैसों की तंगी की वजह से क्रेडिट कार्ड का बिल न चुका पा रहे हों तब आप बैलेंस ट्रांसफर की सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं. इस सुविधा के तहत आप एक क्रेडिट कार्ड का बिल दूसरे क्रेडिट कार्ड से चुका सकते हैं. हालांकि, इसके लिए आपको कुछ ब्याज भी चुकाना पड़ता है.
  • खरीदनें के ज्यादा विकल्प: ऑनलाइन शॉपिंग के दौर में अलग-अलग शॉपिंग वेबासाइट अलग-अलग क्रेडिट कार्ड पर डिस्काउंट या कैशबैक जैसे ऑफर देती हैं. अगर आपके पास एक से अधिक क्रेडिट कार्ड होंगे तो आपके पास चुनने के ज्यादा विकल्प होंगे और आप उस वेबसाइट से शॉपिंग कर सकेंगे जहां सबसे कम डिस्काउंट मिल रहा हो.
  • ज्यादा लिमिट मिल जाती है: एक नौकरी करने शख्स को क्रेडिट कार्ड पर 10 लाख से ज्यादा की क्रेडिट लिमिट मिलना बहुत मुश्किल है लेकिन आप एक-एक लाख की लिमिट वाले 10 कार्ड अलग-अलग बैंकों से ले सकते हैं.
  • क्रेडिट स्कोर अच्छा होता है: कई क्रेडिट कार्ड रखने एक बड़ा फायदा यह होता है कि अगर आप अपने सभी कार्ड का भुगतान समय पर करते रहें तो क्रेडिट स्कोर बहुत अच्छा हो जाता है.

नुकसान

  • आप ईएमआई के जाल में फंस सकते हैं क्योंकि ज्यादा क्रेडिट कार्ड होने से आप ज्यादा शॉपिंग करेंगे ये तो तय है. ईएमआई बनवाते वक्त यही लगता है कि इसे आसानी से चुकाया जा सकता है लेकिन ऐसा होता नहीं है. ज्यादा क्रेडिट कार्ड होने से आपके ऊपर ज्यादा ईएमआई भी बन सकती है.
  • अगर आपके पास ज्यादा क्रेडिट कार्ड है तो आप ज्यादा शॉपिंग करेंगे और आप पर कर्ज बढ़ता जाएगा. क्रेडिट कार्ड पर किया खर्च भी एक तरह का कर्ज ही है.
  • आपके क्रेडिट कार्ड पर अगर वार्षिक फीस लगती है तो आपको हर साल एक बड़ा अमाउंट चुकाना होगा.
  • कर्ज से बचना चाहते हैं तो क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल सोच समझ कर करें.
  • बेहतर है कि आप 2-3 कार्ड रखें लेकिन इससे ज्यादा न रखें.
  • लाइफटाइम फ्री क्रेडिट कार्ड लेने की कोशिश करें क्योंकि इनमें सालाना फीस नहीं होती है.
  • जेब में कई क्रेडिट कार्ड रखने का मतलब है कि तमाम कार्ड से खरीदारी। यानी कि आप पर कर्ज का बोझ लगातार बढ़ता ही चला जा सकता है, क्योंकि क्रेडिट कार्ड से किया हुआ खर्च भी एक तरह का कर्ज ही होता है।
  • अगर आपके क्रेडिट कार्ड पर सालाना फीस भी लगती है तो आपको हर साल एक बड़ा अमाउंट सालाना फीस के नाम पर जमा करना होगा, जो आपका नुकसान ही है।
  • अधिक क्रेडिट कार्ड होने से आप ईएमआई के जाल में फंस सकते हैं। दरअसल, कोई भी सामान खरीदते वक्त आपको लगता है कि ये सामान खरीदने में तो हर महीने सिर्फ चंद हजार रुपये ही देने होंगे। लेकिन आपको पता भी नहीं चलता और थोड़ा-थोड़ा कर के आपके अलग-अलग कार्ड पर कई ईएमआई बन जाती हैं, जिनकी वजह से आपकी कमाई का एक बड़ा हिस्सा हर महीने ईएमआई में कटने लगता है।

2. अलग-अलग ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर अलग-अलग क्रेडिट कार्ड से खरीदारी पर छूट के ऑफर मिलते हैं। ऐसे में अगर एक से अधिक कार्ड है तो आप कई बार बेहतर फायदा उठा सकते हैं।
3. कई बार पैसों की दिक्कत हो जाने के चलते क्रेडिट कार्ड का बिल चुकाना मुश्किल हो जाता है। ऐसी स्थिति में आप बैलेंस ट्रांसफर की सुविधा का इस्तेमाल दूसरे क्रेडिट कार्ड से कर सकते हैं।

4. एक से अधिक क्रेडिट कार्ड होने पर आप लोन लेने से पहले ईएमआई की तुलना कर सकते हैं। इससे आप सस्ते ब्याज पर लोन ले सकते हैं।
5. अगर आप पांच लाख रुपये की क्रेडिट लिमिट एक कार्ड पर चाहे, तो मिलना मुश्किल होता है। हालांकि, दो-तीन कार्ड के जरिये आप आसानी से यह कर सकते हैं।

PF खाताधारकों के लिए बड़ी खबर,बस करना होगा काम

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.