MP NEWS- खाट बना एम्बुलेंस, युवाओं ने 2 किमी ढोकर पहुंचाया अस्पताल

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

शहडोल। शहडोल के कई ग्रामीण इलाके आज भी विकास और सुविधाओं से कितने दूर हैं। इसकी एक तस्‍वीर शहडोल जिले के सोहागपुर जनपद पंचायत अंर्तर्गत ग्राम पंचायत बंडी के गीधा टोला में देखने को मिला, जहां सड़क नही होने से बीमार ग्रामीण को खाट ( खटिया ) पर लेटाकर इलाज के लिए लिए कई किलोमोटर पैदल लेकर स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया, खाट पर इलाज के लिए ले जा रहे ग्रामीणों का वीडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है ।

सोहागपुर जनपद अन्तर्गत ग्राम पंचायत बंडी के ग्राम गीधाटोला निवासी दिव्यांग ओमनारायण बैगा तबियत बिगड़ ( पेट मे तकलीफ ) हो जाने पर उसे इलाज के लिए सुबह गांव के युवाओं ने ओमनारायण को खटिया में लादकर दो किलोमीटर दूर मुख्य सड़क तक लाना पड़ा, जिसके बाद उसे उपचार के लिए बेमहौरि स्वस्थ्यकेंद ले जाया गया ,जहां उसका उपचार हुआ।

दरसल गीधा गांव में सड़क नही होने से अक्सर इस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सड़क नही होने से गांव तक कोई भी वाहन नही पहुच पाते ,जिससे ग्रामीणों इसी तरह खाट में लादकर इलाज के लिए जाना पड़ता है। मजबूरी में खाट को ही एम्बुलेंस बनाते है। ,इस तरह का कोई पहला मामला नही है पूर्व में भी इसी तरह ग्रामीण खाट में लाचार बीमार लोगो को उपचार के लिए लेकर जाते है।

शहडोल के सोहागपुर जनपद अन्तर्गत ग्राम पंचायत बंडी के ग्राम गीधाटोला संरक्षित प्रजाति बैगा बाहुल्य गांव है । गीधाटोला में सड़क, बिजली के साथ-साथ पेयजल की भी समस्या है। यहां शासन की आदिवासी विकास को लेकर सारी योजनाएं नदारद हैं।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *