तुलसी के सूखे पत्तो से भी चमक सकती हैं किस्मत,बस ऐसे इस्तेमाल करने से बढ़ेगी संपत्ति

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

हम आपको तुलसी की सूखी पत्तियों के उपयोग बतायेंगे

तुलसी के पौधे का विशेष स्थान है। तुलसी के पौधे को मां लक्ष्मी का वास माना जाता है। तुलसी का पौधा पूजनीय है। तुलसी के पौधे के बिना भगवान विष्णु की पूजा भी अधूरी है।

तुलसी के पौधे का हिंदू धर्म में विशेष स्थान है। तुलसी के पौधे को मां लक्ष्मी का वास माना जाता है। तुलसी का पौधा पूजनीय है। तुलसी के पौधे के बिना भगवान विष्णु की पूजा भी अधूरी है। ऐसा कहा जाता है कि तुलसी के पौधे को नियमित रूप से पानी देने और दीप जलाने से समृद्धि आती है।तुलसी का पौधा जितना महत्वपूर्ण है, तुलसी के सूखे पत्तों का भी उतना ही महत्व है। अगर इन पत्तों से कुछ उपाय किए जाएं तो सौभाग्य से यह धन में भी वृद्धि करता है। वहीं मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। आइए जानते हैं तुलसी के सूखे पत्तों का इस्तेमाल कैसे करें।

हिन्दू धर्म में तुलसी का पौधा सबसे पवित्र पौधा माना जाता है। तुसली के पौधे से कई पौराणिक कथा भी जुड़ी हुई है। कहते है जब भगवान श्री कृष्ण और राधा रानी के चरण एक साथ पड़े थे तब तुलसी की उत्पत्ति हुई थी। तुलसी को वृंदा भी कहते है। वृंदावन का नाम भी इसी वृंदा के नाम से पड़ा है। तुलसी का पौधा भगवान श्री कृष्ण को अतिप्रिय है। भगवान के भोग में यदि तुलसी के पत्ते न रखे जाए तो भगवान का भोग अधूरा माना जाता है। तुलसी का पौधा घर में लगाना अत्यंत शुभ होता है और सुबह शाम इसकी पूजा करनी चाहिए। इस पौधे की साफ सफाई का खास ध्यान रखे क्योंकि इसमें स्वयं माँ लक्ष्मी वास करती है। तुलसी के पौधे का सुखना अशुभ होता है लेकिन तुलसी की सूखी पत्तियां बहुत ही उपयोगी और चमत्कारी होती है। आज हम आपको तुलसी की सूखी पत्तियों के उपयोग बतायेंगे

दुर्गा के नौ स्वरूप और उन्हें अर्पित किया जाने वाला विशेष प्रसाद-

देवी लक्ष्मी की कृपा हर कोई चाहता है। सब चाहते है कि देवी लक्ष्मी उन पर हमेशा मेहरबान रहे और उनके घर में कभी भी धन संपत्ति की कमी न हो। इसके लिए लोग तरह तरह के उपाय भी करते है और जीवन में धन कमाने के लिए कड़ी मेहनत भी करते है। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि धन से जुड़ी समस्याओं का अंत नही होती है। ऐसे में तुलसी के सूखे पत्ते आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होंगे। आपको तुलसी की सूखी पत्तियों को इक्कठा करना है और उन्हें लाल रंग के कपड़े में बांधकर अपनी तिजोरी या धन रखने वाले स्थान पर रखना है। इससे आपके ऊपर देवी लक्ष्मी की कृपा बनेगी और साथ ही आर्थिक उन्नति भी होगी।

कई बार ऐसा होता है कि घर में नकारत्मक ऊर्जा का प्रवेश हो जाता है तो ऐसे में व्यक्ति को चाहिए कि वह तुलसी के कुछ सूखे पत्ते ले और उन्हें गंगाजल में डाल लें। उसके बाद उस जल से पूरे घर में छिड़काव करें ऐसा करने से घर से नकारत्मक ऊर्जा दूर होगी। आप चाहे तो आप रोज भी यह कार्य कर सकते है इससे घर में नकारत्मक ऊर्जा का प्रवेश नही होगा और घर में खुशहाली का वातावरण बना रहेगा।

तुलसी के सूखे पत्तों का प्रयोग करें

  • मान्यता है कि भगवान कृष्ण को तुलसी के सूखे पत्ते बहुत प्रिय होते हैं. ऐसे में भगवान कृष्ण की कृपा पाने के लिए कान्हा के भोग में तुलसी के पत्ते का प्रयोग करें. बता दें कि तुलसी के सूखे पत्तों का इस्तेमाल 15 दिनों तक किया जा सकता है।
  • भगवान कृष्ण को नहलाते समय तुलसी के सूखे पत्तों को पानी में डाल सकते हैं.
  • ऐसा माना जाता है कि अगर आप तुलसी के सूखे पत्तों को पानी में डुबोकर स्नान करते हैं, तो इससे शरीर की नकारात्मक ऊर्जा निकलती है।
  • मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए तुलसी के सूखे पत्तों को लाल कपड़े में बांध लें. फिर इसे तिजोरी या अलमारी में रख दें। इससे आर्थिक स्थिति मजबूत होती है।
  • तुलसी के सूखे पत्तों को गंगाजल में डालकर घर के चारों ओर छिड़काव करने से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है. और परिवार में खुशियां बनी रहती हैं।

आज हम आपको तुलसी के पत्तों को सुखाकर रखने का बड़ा ही सिंपल तरीका बता रहे हैं. इस तरह पत्तों को सुखाकर रखने से इनमें सालभर तक खुशबू और स्वाद बना रहेगा. आप इन सूखे तुलसी के पत्तों को खाने-पीने की चीजों में पानी और चाय में डालकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

तुलसी की 7 सूखी पत्तियों को नियमित रूप से पानी से निगलने से सेहत अच्छी रहती है. लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि तुलसी के पत्तों को चबाना नहीं है.

ईद से पहले अल्लाह के नेक बंदों के लिए क्यों खास होता है रमजान का आखिरी अशरा

Goat Farming Business Loan: कैसे करे बकरी पालन बिज़नेस,चुटकियों में लोन कैसे प्राप्त करें ?

नई पीढ़ी की Mahindra Scorpio सड़क पर एक अलग अंदाज में दिखेगी

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

बहुचर्चित खबरें