जमीन दलाल,रजिस्ट्री लेखक, सिंगरौली रजिस्टार के कारण एक नेत्रहीन आदमी हुआ भूमिहीन पट्टेदार

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

जमीन दलाल,रजिस्ट्री लेखक, सिंगरौली रजिस्टार के कारण एक नेत्रहीन आदमी हुआ भूमिहीन पट्टेदार

अनोखी अवाज -जिला सिंगरौली में रजिस्टार ऑफिस में जमीन दलालों के हौसले इतने अधिक बुलंद बने हुए है कलेक्टर दफ्तर के नीचे बने उपपंजीयक कार्यालय में सूत्रों के द्वारा बताया जा रहा है

की बीते दिनों दूसरे नकली पट्टेदार को खड़ा करके असली पट्टेदार की जमीन की फर्जी रूप से रजिस्ट्री ही करा दिया ।इसके बाद पूरे जिले में हलचल शुरू हो गई और मामला पुलिस थाना तक पहुंच गया।*

फर्जी तरीके से नेत्रहीन की बेच दी लगभग चार (4)एकड़ बेसकीमती जमीन।

घटना के संबंध में सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जिला मुख्यालय से 50 किलोमीटर दूर ही सरई तहसील हल्का स्थित ग्राम महुली गाँव निवासी महावली यादव पिता मंगाली यादव की लगभग 4 एकड़। यह भूमि काफी बेशकीमती थी,चूंकि पट्टेदार नेत्रहीन और अनपढ़ है

और इस जमीन पर अनेक लोगों की निगाह भी लगी हुई थी। इसी जमीन पर बरका निवासी जमीन दलाल 1,संतोष बादी 2,दीपू सिंह जो पत्तेदार का जमीन का पर्ची 1 वर्ष तक रखा रह गया अपने पास 3,रामबली वैश्य 4,राजकुमार साकेत अन्य जमीन दलालों की भी निगाह लगी हुई थी इन दलालों ने उक्त भूमि को बेचकर 15-से 20लाख रुपये कमाई सब लोगो ने मिल कर किया,बताया जाता है

कि इन दलालों ने यादव के स्वामित्व की सभी दस्तावेज नकली बनवाई बिल्कुक सही एवं सत्य दस्तावेज के जैसे।जैसे आधार कार्ड जमीन की पर्ची फोटो एवं अन्य दस्तावेज भी कम्प्यूटर से निकलवा ली और रजिस्ट्री के लिए एक दूसरे अंधे को कहि से ले आये और दलालों ने ही एक रजिस्ट्री में तीन लोगों के नाम कराई और तीन रजिस्ट्री अलग अलग लोगो के नाम कराई जो सभी सिंगरौली जिले के नेहरूनगर निवासी हैं

उक्त कथित एक दलाल के कहने के मुताबिक 4 रजिस्ट्री के सौंदा 25 लाख रूपये में हो गया था तथा दलालों द्वारा जो नकली अंधे आदमी को खड़ा करके रजिस्ट्री करवाई उसे 50000 पैसा दे दिया गया जिससे वह संतुष्ट हो गया।

इस पूरे फर्जी रजिस्ट्री में हल्का पटवारी राम सिंह का भी संलिप्तता पाई गई इस मामले की सत्यता सामने आ चुकी। मामले को लेकर पीडता ने थाने में आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

बहुचर्चित खबरें