Kidney Stone:किडनी स्टोन से परेशान है, तो भूलकर भी ना खाए यह चीजें

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Kidney Stone: गुर्दे का मुख्य कार्य रक्त का विषहरण और शरीर से तरल अपशिष्ट का उत्सर्जन है। इस प्रक्रिया के दौरान, अपशिष्ट पदार्थ कभी–कभी क्रिस्टलबना सकते हैं जो एक ठोस द्रव्यमान बनाने के लिए आपस में टकराते हैं। इन्हें गुर्दे की पथरी के रूप में जाना जाता है। गुर्दे की पथरी गुर्दे कीअंदरूनी परत पर मौजूद खनिजों के छोटे समूह होते हैं। ये पथरी, हालांकि गुर्दे में विकसित हो रही है, मूत्र पथ में कहीं भी पाई जा सकती है। गुर्देकी पथरी के कारण होने वाला दर्द अक्सर बच्चे के जन्म के दौरान होने वाले दर्द की तुलना में सबसे दर्दनाक अनुभवों में से एक के रूप में व्यक्तकिया जाता है। गुर्दे की पथरी कैल्शियम ऑक्सालेट से बनी होती है लेकिन कई अन्य खनिजों से भी बन सकती है।

Google image

जब आपको गुर्दे कीStone होती है, तो आपको पशु प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थ या पालक, मांस, चॉकलेट या सोयाबीन जैसे ऑक्सालेट सेभरपूर खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए। यदि आप इन खाद्य पदार्थों को खाते हैं, तो यह आपके गुर्दे में पत्थरों की संख्या या आकार को बढ़ा सकताहै, जो आपकी समस्या को और भी खराब कर सकता है।

भूलकर भी ना खाए चॉकलेट

चॉकलेट, ऑक्सालेट से भरपूर होने के कारण, किडनी में कैल्शियम ऑक्सालेट के निर्माण को उत्तेजित करती है। चूंकि ऑक्सालेट एकचयापचय अंत उत्पाद है और मूत्र में अपरिवर्तित होता है, पोषण विशेषज्ञ गुर्दे में कैल्शियम ऑक्सालेट पत्थरों वाले मरीजों को कम ऑक्सालेटआहार का सुझाव देते हैं।

सोडियम डाइट बंद करें

गुर्दे की पथरी के निर्माण को नियंत्रित करता है, इसलिए यदि इसे अधिक मात्रा में लिया जाए तो यह क्रिस्टल के जमाव में जुड़ जाता है।

 हमअपने भोजन में जो नमक डालते हैं उसमें सोडियम होता है, इसलिए कोशिश करें और नमक के अधिक सेवन से बचें। भी। उच्च सोडियम आहारलेने से आपके मूत्र में कैल्शियम के स्तर में वृद्धि हो सकती है, जो बदले में गुर्दे की पथरी के गठन को ट्रिगर करता है।

पशु प्रोटीन ना लें

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ डायबिटीज एंड डाइजेस्टिव एंड किडनी डिजीज के अनुसार, प्यूरीन युक्त आहार (मांस, मछली और मुर्गी) गुर्दे की पथरीके निर्माण को प्रभावित कर सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि उच्च पशु प्रोटीन गुर्दे में कैल्शियम ऑक्सालेट (कैल्शियम पत्थरों) के गठन कोट्रिगर करता है। तरल पदार्थों के अपर्याप्त सेवन के साथ इन खाद्य पदार्थों के अंतर्ग्रहण से पथरी बनने का खतरा बढ़ जाता है। यदि आपको गुर्देकी पथरी है तो आप पशु प्रोटीन के बजाय पादप प्रोटीन पर विचार कर सकते हैं।

पालक भूल कर भी ना खाए

पालक प्रोटीन, विटामिन, खनिज, फाइबर और पानी का बहुत अच्छा स्रोत होने के साथ–साथ ऑक्सालेट से भी भरपूर होता है। जब सेवन कियाजाता है, तो ऑक्सालेट शरीर में कैल्शियम से बंध जाते हैं और कैल्शियम ऑक्सालेट पत्थरों के विकास को प्रभावित करते हैं।

 इसके अलावा, पालक, एक क्षारीय भोजन होने के कारण मूत्र पीएच को बढ़ाता है और पथरी कीसमस्या को बढ़ा सकता है

Entertainment News: आखिर क्यों Social Media पर ट्रोल हुए Karina- Saif, बेटे तैमूर के साथ आए थे नजर

Irctc Tourism: भारतीय रेलवे कम दाम में करा रहा धार्मिक स्थानों की यात्रा, जाने रेलवे के विशेष पैकेज में क्या है खास

Baroda UP Bank Recruitment: बड़ोदा यूपी बैंक में 205 पर भर्ती, 9000 रुपए सैलरी, barodaupbank.in पर करें आवेदन

Sapna Choudhary : सतना आई सपना चौधरी की तबीयत बिगड़ी, रीवा के संजय गांधी स्मृति हॉस्पिटल में कराया भर्ती

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *