किसान की सेल्समैन ने की बेइज्जती, 30 मिनट में ले आया 10 लाख कैश

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

कहते हैं कि किसी इंसान को उसके कपड़ों से नहीं आंकना चाहिए। ऐसी ही भूल एक कार शोरूम के सेल्समैन से हुई। कर्नाटक (Karnataka) के तुमकुर में एक किसान (Farmer SUV News) अपने दोस्तों के साथ कार के शोरूम पहुंचा। वह अपनी ड्रीम कार खरीदने गया था लेकिन उसके कपड़े देखकर सेल्समैन (Farmer Salesman News) ने उसे भगा दिया। अपमानित किसान 30 मिनट के अंदर दस लाख रुपये कैश लेकर अपनी ड्रीम कार खरीदने लौटा।

मामला चिक्कासांद्रा हुबली में रामनपाल्या के किसान केम्पेगौड़ा आरएल के साथ हुआ। पेशे से सुपारी किसान केम्पेगौड़ा एक एसयूवी बुक करने के लिए शोरूम पहुंचे थे। इस दौरान सेल्समैन ने उनकी वेशभूषा को देखकर मजाक उड़ाया। किसान ने महिंद्रा बोलेरो के बारे में पूछताछ की थी। वह 2 दिन पहले अपने दोस्तों के साथ डील फाइनल करने के लिए शोरूम आया। शुरू में उसने दो लाख रुपये डाउन पेमेंट करने और उसी दिन डिलीवरी लेने की पेशकश की। सेल्स टीम ने मना कर दिया, तो उसने 10 लाख रुपये नगद भुगतान की बात कही। आरोप है कि इसके बाद सेल्स टीम ने जानबूझकर किसान का मजाक उड़ाया है और कॉमेंट किया।

सेल्समैन ने कहा, ‘ 10 लाख रुपये तो दूर, तुम्हारी जेब में 10 रुपये भी नहीं होंगे।’ उसे लगा कि किसान बेकार में उसका समय बर्बाद करने आए हैं। हालांकि एहसास होने पर उन्होंने किसान से कहा कि अगर वह 25 मिनट के अंदर दस लाख रुपये कैश ले आता है तो उसे आज ही गाड़ी की डिलीवरी दे देंगे।

10 लाख लेकर शोरूम पहुंचा किसान

Gemology:इन राशि के लोगों का चमक सकता है भाग्य, जानिए धारण करने का सही तरीका ?

चौंकाने वाला खुलासा-घर से न‍िकला था सब्‍जी लेनेलौटा तो 12 करोड़ की लॉटरी जी‍तकर आया

संबंध बनाते समय बिना सहमति कंडोम हटाया तो होगी सजा, क्यों चर्चा में यह कानून

रईसी में सबसे आगे हैं Nita Ambani , पीती हैं दुनिया का सबसे महंगा पानी, जानिए कीमत

केम्पेगौड़ा अपने खेत में चमेली और क्रॉसेंड्रा भी उगाते हैं। उन्होंने तुरंत अपने दोस्तों को नगदी की व्यवस्था करने के लिए बुलाया। दस लाख रुपये एकत्र करके दोस्तों के साथ वह शोरूम में एसयूवी की डिलीवरी लेने पहुंच गया। सेल्स टीम ने उन्हें बताया कि उन्हें गाड़ी की डिलीवरी के लिए कम से कम 3 दिन चाहिए।

किसानों ने किया हंगामा

शुक्रवार को हुई इस घटना के बाद कार की डिलीवरी नहीं हो सकी। शनिवार और रविवार को सरकारी अवकाश होने के कारण कर्मचारियों ने बेबसी जाहिर की। इससे केम्पेगौड़ा और उसके दोस्त नाराज हो गए। उन्होंने शिकायत दर्ज कराने के लिए पुलिस को बुलाया।घटना का वीडियो शनिवार को वायरल हो गया। किसानों ने शोरूम घेर लिया और वहां से हटने को राजी नहीं थे। किसी तरह तिलक पार्क पुलिस स्टेशन के पुलिसवालों ने उन्हें घर जाने के लिए राजी किया।

किसान ने कहा- लिखित माफी मांगें शोरूम कर्मी

केम्पेगौड़ा ने कहा, ‘मैंने सेल्स एक्जीक्यूटिव और शोरूम अधिकारियों से कहा है कि वह मुझसे और मेरे दोस्तों को अपमानित करने के लिए लिखित में माफी मांगे।… अब, मुझे गाड़ी नहीं चाहिए। उन्होंने सोमवार को शोरूम के सामने धरना देने की चेतावनी दी।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

बहुचर्चित खबरें