Tuesday, February 7, 2023
Homeधर्मDharm news: Chaitra Navratri 2022 पहले दिन मां शैलपुत्री को चढ़ाएं ये...

Dharm news: Chaitra Navratri 2022 पहले दिन मां शैलपुत्री को चढ़ाएं ये भोग, जानें पूजा की सही विधि और मंत्र

Chaitra Navratri 2022: चैत्र नवरात्रि के पावन पर्व की शुरुआत 02 अप्रैल, शनिवार से हो रही है.

Navratri के प्रथम दिन मां शैलपुत्री की उपासना की जाती है. नवरात्रि के 9 दिनों देवी दुर्गा के अलग-अलग स्वरूपों की पूजा की जाती है. 

  • निगेटिव एनर्जी का होता है नाश
  • मिलता है मां शैलपुत्री का आशीर्वाद
  • विवाह में आ रही बाधा होती है दूर

Chaitra Navratri Day 1 Puja 2022: चैत्र Navratri के पावन पर्व की शुरुआत 2 अप्रैल से हो रही है. नवरात्रि के 9 दिन क्रमशः शैलपुत्री, ब्रह्मचारिणी, चंद्रघंटा, कूष्माण्डा, स्कंदमाता, कात्यायिनी, कालरात्रि, महागौरी और सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है. इस चैत्र नवरात्रि मां शैलपुत्री (Shailputri Puja Vidhi) की पूजा 2 अप्रैल को की जाएगी. आइए जानते हैं माता शैलपुत्री की की पूजा-विधि, मंत्र और पवित्र भोग के बारे में.  

Navratri ,source by google

मां शैलपुत्री की पूजा का महत्व

मार्कण्डेय पुराण के मुताबिक मां शैलपुत्री की विधिवत पूजा-अर्चना करने से अच्छी सेहत और मान-सम्मान का आशीर्वाद प्राप्त होता है. इसके अलावा कुंवारी कन्याओं की शादी में आ रही बाधाएं भी खत्म हो जाती हैं. माता शैलपुत्री को सफेद पुष्प बेहद प्रिय है, इसलिए इनकी पूजा में सफेद फूल का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए. इसके अलावा इनकी पूजा में सफेद रंग की मिठाई का भोग लगाना चाहिए. सफेद बर्फी या दूध से बनी शुद्ध मिठाइयों का भी भोग लगा सकते हैं. इसके अलावा माता को सफेद वस्त्र अर्पित करना लाभकारी होगा. 

Navratri ,source by google

कैसे करें मां शैलपुत्री की पूजा?

नवरात्रि के प्रथम दिन शैलपुत्री की प्रतिमा या चित्र को लाल या सफेद रंग के शुद्ध आसन पर रखें. माता शैलपुत्री को सफेद रंग की चीजें प्रिय हैं. ऐसे में उन्हें सफेद वस्त्र या सफेद फूल अर्पित करें. साथ ही सफेद वस्तुओं का भोग लगाएं. जीवन में नकारात्मक शक्तियों का नाश करने के लिए एक पान के पत्ते पर सुपारी, लौंग और मिश्री रखकर मां शैलपुत्री को अर्पित करें.

शैलपुत्री पूजा मंत्र (Shailputri Puja Mantra)

या देवी सर्वभूतेषु शैलपुत्री रूपेण संस्थिता
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:

शिवरूपा वृष वहिनी हिमकन्या शुभंगिनी
पद्म त्रिशूल हस्त धारिणी
रत्नयुक्त कल्याणकारिणी

ओम् ऐं ह्रीं क्लीं शैलपुत्र्यै नम:

Navratri ,source by google

यह भी पढ़ें: Dharm news: रिश्ते को शिद्दत से निभाते हैं इन 5 राशियों के लोग, दुश्मनी निभाने में भी रहते आगे

बीज मंत्र- ह्रीं शिवायै नम:

वन्दे वांच्छित लाभाय चंद्रार्धकृतशेखराम्‌ 
वृषारूढ़ां शूलधरां शैलपुत्रीं यशस्विनीम्‌ 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. anokhiaawaj इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Second hand bike: Hero Splendor Plus बिक इतनी सस्ती की आप भी कहेंगे सही समय पर पता चल गया

भोजपुरी एक्ट्रेस Shweta Sharma की HOT तस्वीरें देखकर आप AC में बैठे होंगे फिर भी छूटेंगे पसीने

Second hand bike: Hero Splendor Plus बिक इतनी सस्ती की आप भी कहेंगे सही समय पर पता चल गया

Secondhand Car Sale: कम कीमत में मिल रही 5000 Km चली सेकंड हैंड कार

14 महीने पुरानी Bajaj Pulsar 150cc, सिर्फ 18000 रुपए, जल्दी करे कही देर न हो जाये

Automobile news: पेट्रोल या CNG नहीं, hydrogen से चलने वाली कार से संसद पहुंचे गडकरी

online app: इस online app से आसान सवालो का जवाब देकर जीत सकते है इतने रूपये…

Skin Care Tips: गर्मियों में दिनभर चमकती हुई Skin पाए, बस आप चेहरा धोते समय अपनाएं ये Tips

Lifestyle news: बिना दवाई के कंट्रोल होगा High Blood Pressure, ये है सबसे सस्ता और आसान तरीका

Dog Bites:गर्मी में कुत्ते क्यों हो जाते हैं खूंखार, जानिए कैसे करते हैं वार

Teeth Pain Home Remedies: दांतो का दर्द मिनटों में करे ख़त्म, बस नमक और नींबू के साथ मिला ले इस चीज को

निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments