गजब हो गया मूंछे न कटवाने के कारण सस्पेंड हुआ आरक्षक

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

भोपाल. मूंछें मर्दों की शान होती हैं. मूंछों से जुड़े किस्से आपने भी सुने होंगे कि मूंछ कटाने की बात पर जिंदगी दांव पर लगा दी. मूंछें रखना या मूंछ कटवा देने, शान से जुड़ी बात मानी जाती रही है. और तो और बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘शराबी’ का तो एक डायलॉग ही मशहूर हुआ कि ‘मूंछें हों तो नत्थूलाल जैसी, वरना न हो’. लेकिन क्या हो जब मूंछों की वजह से किसी की नौकरी ही चली जाए? जी हां, मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज ऐसा ही एक वाकया चर्चा में आया. भोपाल पुलिस में तैनात एक सिपाही को उसकी स्टाइलिश मूंछों की वजह से सस्पेंड कर दिया गया. घुमावदार मूंछें रखने के उसके शौक को पुलिस विभाग के नियमों के मुताबिक अनुशासनहीनता  माना गया.

रोचक यह कि जब मध्य प्रदेश पुलिस के इस सिपाही को मूंछें कटवाने को लेकर समझाइश दी गई, तो उसने इसे अपनी संस्कृति और सम्मान से जोड़ते हुए कहा कि कुछ भी हो जाए, लेकिन वह अपनी मूंछें नहीं कटवाएगा. भोपाल के एमटी पुल विभाग में आरक्षक राकेश राणा वाहन चालक के रूप में तैनात है. उसके निलंबन आदेश में लिखा गया है कि इसका टर्न आउट चेक करने पर पाया गया कि उसके दाढ़ी के बाल बढ़े हुए हैं और मूछें घुमावदार डिजाइन में रखी गई हैं, जिससे टर्नआउट भद्दा दिख रहा है.

आरक्षक राकेश राणा को टर्न आउट चेकिंग के बाद विभाग की तरफ से उसे उसके गेटअप में सुधार करने का आदेश दिया गया. लेकिन आरक्षक ने अपनी मूंछें कटवाने से साफ इनकार कर दिया. इस पर विभाग ने आरोपी सिपाही को निलंबित करने का आदेश जारी किया.

आरक्षक पर आदेश का पालन नहीं करने और मूंछ जस का तस बनाए रखने का आरोप है. इसलिए इसे यूनिफॉर्म सेवा में अनुशासनहीनता मान कर बीती 7 जनवरी को उसके निलबंन का आदेश जारी कर दिया गया. निलंबन अवधि में आरक्षक को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता मिलेगा.

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *