Bima Yojna:बारिश में फसल हो गई है खराब, परेशान न हों, जल्द मिलेगा फसल बिमा,जानिए कैसे

photo by google

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Bima Yojna:देश के किसानों को आर्थिक रूप से खुशहाल और समृद्ध बनाने के लिए सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। उदाहरण के तौर पर पीएम किसान योजना के जरिए किसानों को हर साल 3 अलग-अलग किस्तों में 6 हजार रुपये तक की आर्थिक सहायता दी जा रही है. इसी तरह किसानों की फसलों को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार ने भी उनके लिए बीमा योजना शुरू की है।

क्या है यह सरकारी योजना

Bima Yojna:केंद्र सरकार की इस योजना का नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) है। देश के अधिकांश हिस्सों में बाढ़ और सूखे जैसी प्राकृतिक आपदाओं के कारण किसानों की फसल खराब होने की घटनाएं होती हैं। ऐसे में फसल खराब होने से किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है. किसानों की इस समस्या को हल करने और फसल खराब होने की स्थिति में उन्हें मुआवजा देने के लिए सरकार ने 2016 में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना शुरू की थी।

Bima Yojna
photo by google

इस तरह मिलेगा मुआवजा

Bima Yojna:अगर बारिश या प्राकृतिक आपदा से आपकी फसल को भारी नुकसान हुआ है तो प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत 72 घंटे के अंदर बीमा कंपनी को इसकी जानकारी देनी होगी. इसके बाद बीमा कंपनी आपकी फसल का निरीक्षण करेगी। निरीक्षण के बाद आगे की प्रक्रिया शुरू होगी और मुआवजे की राशि किसानों के खाते में भेज दी जाएगी.

क्या है योजना में रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

Bima Yojna:इसके लिए आपको राशन कार्ड, बैंक खाता संख्या जो आधार से जुड़ा हुआ है, पहचान पत्र, किसान का पासपोर्ट आकार का फोटो, खेत का खसरा नंबर, किसान का निवास प्रमाण पत्र (इस किसान ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, मतदाता के लिए) की आवश्यकता होगी। आईडी कार्ड), यदि खेत किराए पर लिया गया है, तो खेत के मालिक के साथ अनुबंध की फोटोकॉपी जैसे दस्तावेज देने होंगे।

Bima Yojna:प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत रजिस्ट्रेशन करने के लिए सबसे पहले आपको https://pmfby.gov.in/ पर जाना होगा। वेबसाइट ओपन करते ही आपके सामने फार्मर्स कॉर्नर का टैब दिखाई देगा उस पर आपको क्लिक करना होगा। टैब पर क्लिक करते ही एक और टैब खुल जाएगा जहां आपको गेस्ट किसान टैब में जाकर उस पर क्लिक करना है।

इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म आएगा जहां आपको अपनी बेसिक डिटेल भरनी होगी जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा। वेबसाइट पर जाने से आपको इस योजना से संबंधित अन्य जानकारी भी मिल जाएगी, जिनमें से एक बीमा प्रीमियम कैलकुलेटर है जहां आप अपने खेत की माप और फसल के प्रकार को दर्ज करके अपने बीमा प्रीमियम की गणना कर सकते हैं। इसके लिए आपको वेबसाइट पर बीमा कैलकुलेटर टैब पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आप अपने बीमा प्रीमियम की गणना कर पाएंगे।

Bima Yojna:बारिश में फसल हो गई है खराब, परेशान न हों, जल्द मिलेगा फसल बिमा,जानिए कैसे

photo by google

कितना प्रीमियम देना होगा

Bima Yojna:इस योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को प्रीमियम राशि भी देनी होगी। हालांकि यह बहुत कम है। बीमा के लिए किसानों को निर्धारित प्रीमियम का भुगतान भी करना होता है। जिसके तहत खरीफ फसलों के लिए बीमा राशि का 2 फीसदी, रबी फसलों के लिए 1.5 फीसदी और वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के लिए अधिकतम 5 फीसदी प्रीमियम का भुगतान करना होता है. बाकी का भुगतान राज्य और केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *