राजस्थान के अलवर में मूक बधिर नाबालिग लड़की के कथित गैंगरेप मामले में नई जानकारियां सामने आई हैं।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

 अनोखी आवाज़ कह रही पुलिस?

आजतक से जुड़े शरत कुमार की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस खुलकर तो कुछ नहीं कह रही, लेकिन उसके सूत्रों ने मामले में एक डिलीवरी बॉय को हिरासत में लिए जाने की बात कही है. उनका कहना है कि 11 जनवरी को इसी डिलीवरी बॉय की बाइक से टक्कर होने के चलते पीड़ित लड़की बुरी तरह जख्मी हो गई. इस आधार पर पुलिस को शक है कि नाबालिग के साथ हुई घटना गैंगरेप नहीं, बल्कि सड़क हादसे का नतीजा हो सकती है।

बता दें कि राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपने का फैसला ले चुकी है. बीती 16 जनवरी को मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई थी, जिसमें ये फैसला किया गया था।

सूत्रों के अनुसार पुलिस ने घटना वाली जगह के पिछले सात दिनों के CCTV फ़ुटेज निकाले हैं. इनके जरिये वो वहां से गुज़रने वाले वाहनों की पड़ताल कर रही है. इसी सिलसिले में डिलीवरी बॉय को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. वहीं अलवर SP ने कहा कि मामले की जांच अभी चल रही है और कुछ लीड मिला है।

बता दें कि राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार इस मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपने का फैसला ले चुकी है. बीती 16 जनवरी को मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई थी, जिसमें ये फैसला किया गया था।

इससे पहले बीती 12 जनवरी को नाबालिग से कथित गैंगरेप का मामला सामने आया था. घटना की पीड़िता बोल और सुन नहीं सकती है. बताया गया कि उसकी दिमागी हालत भी ठीक नहीं है. उस समय की खबरों के मुताबिक सामूहिक बलात्कार करते हुए आरोपियों ने पीड़िता के साथ बर्बरता भी की थी. बताया गया कि उसके प्राइवेट पार्ट में नुकीली चीज से कई वार किए गए थे. इसके चलते पीड़िता का ऑपरेशन करना पड़ा था. अलवर के एक सरकारी अस्पताल में भर्ती के दौरान ही पीड़िता से दुष्कर्म की पुष्टि हुई थी. लेकिन अब पुलिस के हवाले से इसके सड़क हादसा होने का शक जताया गया है।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.