सूर्य ग्रहण प्रेग्‍नेंट महिलाओं पर भारी पड़ सकता है, रहें सावधान

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

नई दिल्‍ली: सूर्य ग्रहण को धर्म और ज्‍योतिष में तो अशुभ माना ही गया है लेकिन विज्ञान भी इस बात को स्‍वीकारता है कि ग्रहण के दौरान निकलने वाली हानिकारक तरंगे सेहत पर असर डालती हैं. खासतौर पर ग्रहण को नंगी आंखों से देखना आंखों को बहुत ज्‍यादा नुकसान पहुंचा सकता है. सूर्य ग्रहण का नकारात्‍मक असर प्रेग्‍नेंट महिलाओं पर भी बहुत ज्‍यादा पड़ता है. लिहाजा ग्रहण के दौरान प्रेग्‍नेंट महिलाओं को विशेष तौर पर सावधानियां बरतने की सलाह दी जाती है. इसके अलावा ऐसी मांएं जिन्‍होंने हाल ही में बच्‍चों को जन्‍म दिया है, उन्‍हें और उनके बच्‍चे को भी इस दौरान एहतियात बरतना चाहिए. 

​इन बातों का ध्‍यान रखें प्रेग्‍नेंट महिलाएं 

– प्रेग्‍नेंट और हाल ही में मां बनी महिलाओं को सूर्य ग्रहण के दौरान गलती से भी घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. ना ही नवजात बच्‍चे को बाहर भेजना चाहिए. यदि मजबूरी में घर से बाहर निकलना पड़े तो वापस आकर गंगाजल मिलाकर स्‍नान कर लें. साथ ही दान जरूर करें. 

– सूर्य ग्रहण के दौरान नकारात्‍मकता हावी रहती है. इससे आम व्‍यक्ति भी थकान और उदासी महसूस करता है. प्रेग्‍नेंट महिलाओं पर तो इसका असर कहीं ज्‍यादा होता है इसलिए उन्‍हें थकावट वाले काम करने से बचना चाहिए. 

– ग्रहण के दौरान चाकू-कैंची जैसी नुकीली-धारदार वाली चीजों का इस्‍तेमाल बिल्‍कुल भी न करें. 

– ग्रहण के दौरान कुछ भी खाने-पीने से मना किया जाता है. साथ ही भोजन-पानी में तुलसी के पत्‍ते डालने के लिए कहा जाता है. ताकि ग्रहण का नकारात्‍मक असर भोजन-पानी पर न पड़े. लेकिन ग्रहण का समय लंबा होने के कारण ज्‍यादा देर तक बिना खाए-पिए रहना प्रेग्‍नेंट महिलाओं की सेहत के लिए ठीक नहीं है. वे लोग इस दौरान तुलसी डली हुई चीजें खा सकती हैं. 

– प्रेगनेंट महिलाएं ग्रहण को नंगी आंखों से देखने की गलती बिल्‍कुल न करें. इससे उनकी आंखों पर बुरा असर पड़ सकता है।

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *