मुख्यमंत्री सुगम सड़क से बेहतर हुआ आवागमन, अब न पांव फंसते हैं न पहिया

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

रायपुर: एक साल पहले की बात है. गांव में रहने वाला राजकुमार हो या फिर शहर में रहने वाला मनीष या फिर कोई गांव में सरकारी अस्पताल, उचित मूल्य की दुकान, धान उपार्जन केंद्र या किसी और सार्वजनिक स्थल, सरकारी भवन की ओर अपने काम से जाने वालों को अक्सर ही परेशानी का सामना करना पड़ता था. मुख्य सड़कों से लेकर सरकारी भवन या सार्वजनिक स्थानों तक गर्मी के दिनों में जहां धूल से परेशानी उठानी पड़ती थी, वहीं बारिश के दिनों में कच्ची सड़क पर बहने वाले बारिश के गंदे पानी, कीचड़ सहित गड्ढों में पैदल चलने पर चप्पलों से लेकर पांव और साइकिलों से लेकर मोटर सायकिलों, गाड़ियों तक के पहिये फंस जाया करते थे. मुख्य मार्ग से सरकारी भवन या सार्वजनिक स्थल तक बारहमासी पक्की सड़क नहीं होने का खामियाजा अक्सर लोगों को उठाना पड़ता था. गांव-गांव में प्रमुख सड़कों से सार्वजनिक स्थल तक की छोटी-छोटी दूरी की यह बड़ी समस्या अब दूर होने लगी है. 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संज्ञान में आते ही उन्होंने मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना की शुरुआत की है. इस योजना से अब सार्वजनिक स्थल, सरकारी भवन, स्कूल सहित महत्वपूर्ण स्थान पर आने-जाने वालों के न पांव फंसते हैं और न ही उनकी साइकिल, मोटरसाइकिलों के पहिये. 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू की पहल से अब प्रदेश के अनेक सार्वजनिक उपयोग के भवन यथा शासकीय चिकित्सालय, स्कूल, कॉलेज, पंचायत सार्वजनिक भवन, उचित मूल्य की दुकान, आंगनबाड़ी भवन एवं अन्य शासकीय शैक्षणिक संस्थानों के भवन, सार्वजनिक स्थल यथा हाट-बाजार, श्मशान घाट, मेला स्थल, धान संग्रहण केन्द्र जैसे अनेक महत्वपूर्ण सार्वजनिक उपयोग के केन्द्र मुख्य मार्ग से जुड़ने लगे हैं. पहले ऐसे स्थानों तक बारहमासी पक्की मार्ग न होने के कारण आने-जाने वालों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ता था. रायपुर जिले के मंदिरहसौद के ग्रामीण अंचलों में रहने वाले छात्र करण निर्मलकर, रत्नेश दुबे और अंजोर दास और शिक्षक एसके वर्मा सहित विद्यालय के अन्य स्टाफ संगीता ढीढी, ए.के. साहू सभी खुश हैं कि उनके शासकीय उच्चतर विद्यालय में राष्ट्रीय राजमार्ग से लेकर स्कूल के कमरों तक मुख्यमंत्री सुगम सड़क योजना से पक्की सड़क बन गई है.

खबर अच्छी लगी हो तो निचे दिए गये बटन को दबाकर शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *